यूपीएससी आईएएस इंटरव्यू सिलेवस (UPSC Interview Syllabus)

Union Public Service Commission

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा


साक्षात्कार परीक्षण विस्तृत पाठ्यक्रम (UPSC Interview Syllabus)

उम्मीदवार का साक्षात्कार (व्यक्तित्व परीक्षण) एक बोर्ड द्वारा लिया जाएगा, जिसके सामने उम्मीदवार परिचयवृत का अभिलेख होगा। उससे सामान्य रूचि की बातो पर प्रश्न पूछे जायेंगे। यह साक्षात्कार इस उद्देश्य से होगा की सक्षम और निष्पक्ष प्रेक्षकों का बोर्ड यह जान सके की उम्मीदवार लोक सेवा के लिए व्यक्तित्व की दृष्टि से उपयुक्त है या नहीं।

  • यह परीक्षा उम्मीदवार की मानसिक को क्षमता को परखने के अभिप्राय से की जाती है। यदि सरल तौर पर समझें तो इस परीक्षा का प्रयोजन वास्तव में न केवल उम्मीदवार के बौद्धिक गुणों को अपितु उसके सामाजिक लक्षणों और सामाजिक घटनाओ में उसकी रूचि का भी मूल्यांकन करना है।
  • इसमें उम्मीदवार की मानसिक सतर्कता, आलोचनात्मक ग्रहण शक्ति, स्पष्ट और प्रतिपादन की शक्ति, संतुलित निर्णय की शक्ति, रूचि की विविधता और गहराई, नेतृत्व और सामाजिक संगठन की योग्यता व बौद्धिक और नैतिक ईमानदारी की भी जांच की जा सकती है।
  • साक्षात्कार में प्रति परीक्षण(क्रॉस एग्जामिनेशन ) की प्रणाली नहीं अपने जाती इसमें स्वाभाविक वार्तालाप के माध्यम से, उम्मीदवार के मानसिक गुणों का पता लगाने का प्रयत्न किया जाता है, परन्तु वह वार्तालाप एक विशेष दिशा में और एक विशेष प्रयोजन से किया जाता है ।

साक्षात्कार परीक्षण उम्मीदवारों के विशेष या सामान्य ज्ञान की जांच करने के प्रयोजन से नहीं किया जाता, क्योकि उसकी जांच लिखित प्रश्न-पत्रों से पहले ही हो जाती है। उम्मीदवारों से आशा की जाती है की वे केवल अपने विद्यालय के विशेष विषयों में ही पारंगत न हों बल्कि उन सभी घटनाओ पर भी ध्यान दें, जो उनके चारो और अपने राज्य या देश के भीतर और बाहर घट रही हैं। एक उम्मीदवार आधुनिक विचारधारा और नई-नई खोजो में भी रूचि ले जो की सुशिक्षित युवक में जिज्ञासा पैदा कर सकती है।

महत्वपूर्ण लिंक्स


Post Type: 

SHIKSHAPORTAL.COM

↑ Grab this Headline Animator