MPPSC राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा (योजना एवं पाठ्यक्रम)

MPPSC State Service Exam Syllabus

परीक्षा योजना

राज्य सेवा परीक्षा के तीन क्रमिक चरण हैं।

  • मुख्य परीक्षा हेतु उम्मीदवारों के चयन के लिये राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा (वस्तुनिष्ठ प्रश्न ओ.एम.आर. शीट OMR Sheet आधारित) और सेवाओं तथा पदों के विभिन्न प्रवर्गों के लिये उम्मीदवारों के चयन राज्य सेवा मुख्य परीक्षा (लिखित वर्णात्मक) एवं साक्षात्कार है।

प्रारंभिक परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रकार     (बहुविकल्पीय प्रश्न) के दो प्रश्न पत्र होंगे। प्रत्येक प्रश्न पत्र की रचना निम्नलिखित योजनानुसार की जाएगी:-

प्रथम प्रश्न पत्र: सामान्य अध्ययन (समय - 2 घंटे / कुल अंक - 200 )


  • सामान्य विज्ञान एवं पर्यावरण
  • राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं
  • भारत का इतिहास एवं स्वतंत्र भारत
  • भारत का भूगोल भारतीय राजनीति एवं अर्थव्यवस्था
  • खेलकूद
  • मध्यप्रदेश का भूगोल, इतिहास एवं अर्थव्यवस्था
  • सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी
  • अनुसूचित जाति एवं जनजाति (अत्याचार निवारण अधिनियम) 1989 एवं सिविल अधिकार संरक्षण अधिनियम, 1995
  • मानव अधिकार संरक्षण नियम, 1993

द्वितीय प्रश्न पत्र: सामान्य अभिरुचि परीक्षण (समय - 2 घंटे / कुल अंक - 200 )


  • बोधगम्यता
  • संचार कौशल सहित अंतर – वैयक्तिक कौशल
  • तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • आधारभूत गणना (संख्याएं और उनके संबंध, विस्तार क्रम आदि) (दसवीं कक्षा का स्तर), आंकड़ों का विश्लेषण (चार्ट, ग्राफ, तालिका, आंकड़ों की पर्याप्तता आदि - दसवीं कक्षा का स्तर)
  • अंग्रेजी भाषा में बोधगम्यता कौशल (दसवीं कक्षा का स्तर)

नोट: 10वीं कक्षा स्तर के अंग्रेजी भाषा में बोधगम्यता कौशल के प्रश्नों का परीक्षण, प्रश्नपत्र में केवल अंग्रेजी भाषा के माध्यम से, हिंदी अनुवाद उपलब्ध कराए बिना किया जाएगा।

यह परीक्षा केवल छानबीन परीक्षण के रूप में ली जाती है। इस परीक्षा में प्राप्त अंको के आधार पर अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा हेतु योग्य / अर्ह घोषित किया जाता है। अंतिम चयन सूची केवल मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार में प्राप्त अंको के आधार पर निर्मित की जाएगी।


Post Type: 

SHIKSHAPORTAL.COM

↑ Grab this Headline Animator