यूपीएससी साक्षात्कार (इंटरव्यू) की तैयारी कैसे करें।

आईएएस साक्षात्कार की तैयारी के लिये रणनीति।

http://shikshaportal.com/exams/images/UPSC-Interview.jpg


पूर्व में रहे यूपीएससी के अध्यक्ष सुरेंद्र नाथ के शब्दों में एक आदर्श नागरिक सेवक के भीतर निम्न विशेषताएं होनी चाहिए:

  • एक अधिकारी के व्यक्तित्व में अच्छे चरित्र और सज्जन स्वभाव का गुण होना चाहिये। उनमें दृढ़ विश्वास, बौद्धिक क्षमता और नैतिक समझ के साथ-साथ नेतृत्व करने का साहस भी होना चाहिए।

  • साहस व संतुलन के साथ सही समय पर सही निर्णय लेने में सक्षम उम्मीदवार ही एक सफल सिविल सेवा अधिकारी के पद को सम्हाल सकते हैं।

  • आपके भीतर पेशेवर ज्ञान, आत्मविश्वास, संचार कौशल, विश्लेषणात्मक सोच के साथ अपने सहकर्मियों और उपनिर्देशों को प्रेरित करने की क्षमता होनी चाहिए।

आप    के द्वारा भरा गया ऑनलाइन विस्तृत आवेदन प्रपत्र (डीएएफ - DAF or Detailed Application Form)  ही साक्षात्कार की नींव होता है और इसी के आधार पर आपका साक्षात्कार होता है।

डीएएफ में आपके द्वारा दी गयी प्रत्येक जानकारी पूरी तरह से तैयार करें तथा इंटरव्यू के दौरान अपने डीएएफ से दिलचस्प विषय वस्तुओं को शामिल करें जिससे जुड़े प्रश्न इंटरव्यू में पूछे जा सकें। अन्यथा वे यादृच्छिक (Randomly) प्रश्न पूछेंगे जो तैयार नहीं किया जा सकते हैं, लेकिन ध्यान रखिये कि अपने डीएएफ में कुछ भी गलत या असत्य न लिखें क्योंकि अगर वे इसे पकड़ते हैं, तो आप साक्षात्कार में अयोग्य घोषित किये जा सकते हैं और इस परीक्षा में फेल हो सकते है।

सम-सामयिक घटना चक्र तथा समाचारों के बारे में अपडेट रहें, 9 बजे एआईआर समाचार सुनें और कम से कम 2-3 समाचार पत्रों को पढ़ें और इनकी मदद से संबंधित विषयों पर एक तर्कसंगत और संतुलित दृष्टिकोण का विकास करें। राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं पर विशेष ध्यान दें जैसे प्रधानमंत्री का विदेश दौरा इत्यादि।

यदि संभव हो तो साक्षात्कार की अभ्यास परीक्षा (Interview Mock Test) के दौरान प्रश्नों के उत्तरों को रिकार्ड करें और अपने स्वयं के उत्तरों का विश्लेषण करें, इससे आप अपनी गलतियों को पहचानने में सक्षम होंगे। अभ्यर्थियों को यह सलाह दी जाती है कि वे कम से कम एक मॉक इंटरव्यू टेस्ट जरूर करें, जिससे आप वीडियो फ़ीडबैक के ज़रिये अपने चेहरे का हावभाव और शारीरिक भाषा इत्यादि का मूल्यांकन कर सकते हैं।


इंटरव्यू के दौरान ध्यान देने योग्य कुछ आवश्यक बातें।


http://shikshaportal.com/exams/images/IAS-Interview-Candidate.jpgइंटरव्यू के दौरान आत्मविश्वास व मुस्कान के साथ साक्षात्कार कक्ष में प्रवेश करें। यदि इंटरव्यू बोर्ड में कोई महिला सदस्य है तो आप साक्षात्कार कक्ष के बाहर उपस्थित स्टाफ से पूछ सकते हैं। इस प्रकार से आप बोर्ड का सही क्रम में स्वागत करने के लिये तैयार हो सकते हैं। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि बोर्ड द्वारा प्रश्न पूछे जाने पर उन्हें अपना सवाल पूरा करने दें तथा बीच में रोकें नहीं। इंटरव्यू पैनल द्वारा पूछे गये सवालों को गंभीरता से सुनें व समझें और फिर उत्तर दें, ये यह दर्शाता है कि आपने प्रश्न को अच्छी तरह समझा है।

यह बहुत ही आवश्यक है कि आप अपने विचारों के संदर्भ के लिये लिए उप्युक्त कारण बताएं, यह आपकी तर्कसंगत विचार प्रक्रिया को प्रदर्शित करता है। ऐसे बहुत से उम्मीदवार हैं जो किसी प्रश्न के उत्तर के लिये अनुमान लगाने जैसे प्रयास करते हैं जो कि इस परीक्षा की दृष्टि से अनुचित है। यह हमेशा याद रखिये, कि आप साक्षात्कार में पूछे जाने वाले प्रत्येक प्रश्न के उत्तर नहीं जानते या नहीं दे सकते। इसलिये किसी प्रकार के अनुमानित उत्तर देने से पहले अनुमति लें या प्रश्न के बारे आश्वस्त न होने की स्थिति में स्वीकार करें कि उस प्रश्न का उत्तर आप नहीं दे सकते या उसके बारे में आपको नहीं पता है।

उदाहरण के लिये एक क्रिकेट मैच यहां आपको कुछ गेंदें खेलनी होंगी, जिसमें कुछ में आपको सिर्फ विकेट का बचाव करना पड़ेगा, कुछ जिनमें से आप सिक्स और बाउंड्री शाट खेल सकते है तथा कुछ गेंदों में केवल एक या दो रन कर सकते हैं। इससे हम यह समझते हैं कि साक्षात्कार में पूछे जाने वाले प्रश्नों की प्रकृति को समझने और तदनुसार उसका उत्तर की कुशलता इस परीक्षा में सफलता पाने की कुंजी है। याद रखिये, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने कितने बार "मुझे नहीं पता" कहा लेकिन यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आपने इसे सही भावना और उद्देश्य के अनुसार कहा है और इसके लिये आपको निराश भी नही होना है।

हालांकि बहुत से लोग यह मानते हैं कि साक्षात्कार में सफलता एक भाग्य है, किन्तु साक्षात्कार के लिए तैयारी करना आवश्यक है और इसमें सीखने के लिए बहुत कुछ है। व्यक्तित्व परीक्षण या इंटरव्यू लिखित परीक्षाओं से बिल्कुल विपरीत होता है, साक्षात्कार आपके ज्ञान परीक्षा नहीं है। यह एक व्यक्तित्व परीक्षण है और इसलिए इसमें सवाल ऐसे प्रश्न भी पूछे जा सकते है जिनका जवाब देने में आप सक्षम न हों। इंटरव्यू बोर्ड के सदस्य यह उम्मीद रखतें है एक उम्मीदवार प्रश्न की प्रकृति को समझे और तदनुसार जवाब देने में सक्षम हो।


Exams & Subjects: 
Post Type: 

SHIKSHAPORTAL.COM

↑ Grab this Headline Animator