आईएएस परीक्षा के लिए भारतीय राज्यव्यवस्था का अध्ययन कैसे करें।

भारतीय राज्यव्यवस्था विषय की तैयारी करने के लिए रणनीति।


http://shikshaportal.com/exams/images/Indian-Polity.jpg

भारतीय राज्यव्यवस्था आईएएस परीक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण विषय है, और आईएएस परीक्षा हर चरण में इसका योगदान है। इसलिये एक उम्मीदवार को गंभीर दृष्टिकोण से भारतीय राज्यव्यवस्था का अध्ययन करना चाहिए। भारत के नागरिक के रूप में हमें यह जानना चहिये कि भारतीय राज्यव्यवस्था मूलभूत अधिकारों, कर्तव्यों और जिम्मेदारियों इत्यादि विभिन्न विषयों से संबंधित है। क्योंकि भारतीय राज्यव्यवस्था परीक्षा के अन्य विषयों से अलग है, इसलिये इसकी तैयारी के लिये रणनीति भी अलग होनी चाहिये।

उदाहरण के लिए, अध्ययन करते समय  यदि आप मौलिक अधिकारों का अध्ययन करने में रुचि रखते हैं, तो वहां से पढ़ना शुरू करें। आपके लिए यह भी फायदेमंद होगा यदि आप स्वयं से पढ़ने के साथ साथ ही नोट्स तैयार करते रहें। इनके अलावा, पिछले साल प्रीलिम्स एग्जाम के प्रश्नों के साथ-साथ टेस्ट सीरीज लेने का भी प्रयास करना बेहद लाभप्रद होगा। इसके प्रकार तैयारी की पद्धति अपनाने से आप परीक्षा में बहुत ही कम समय में विभिन्न मुश्किल सवालों को हल करने में सक्षम हो जाएंगे।

आपकी पढ़ाई की प्रक्रिया का सबसे अनिवार्य हिस्सा यह है कि आप उस विषय वस्तुओं को दोहराते रहें रिवीजन करते रहें जिन्हें आपने पहले भी पढ़ा है। इसके अलावा, दैनिक समाचारों से संबंधित मुद्दों को विषय से सहसंबंधित करें। उदाहरण के लिए, यदि जम्मू-कश्मीर मुद्दे के बारे में खबरें आती हैं, आपको यह पता होना चहिये कि यह मुद्दा भारत के संविधान के अनुच्छेद 370 साथ सहसंबंध रखता है, जो जम्मू-कश्मीर के लिए स्वायत्तता और विशेष प्रावधान से संबंधित है।

इस प्रकार न्यूजपेपर्स पढ़ते समय इस प्रकार के विषयों और मौजूदा मुद्दों को जोड़कर उम्मीदवार समुचित रूप से संविधान के विभिन्न लेखों को याद रख सकता है। हर दिन अख़बार पढ़ना और संवैधानिक लेखों के उनको साथ जोड़ने की कोशिश करना बहुत महत्वपूर्ण है। सरकार के मंत्रिमंडल, उनके अधिकारों और कर्तव्यों से संबंधित सवालों को समझने के लिये एक विश्लेषणात्मक और अधिक वैचारिक समझ का विकास करने की आवश्यकता होती है।

यह विषय अध्ययन के लिए आसान होने के कारण दूसरे विषयों से अलग है, और इसके लिये बहुत अधिक संख्या में पुस्तकों का अध्ययन करने की आवश्यकता नहीं होती है। इस भाग से परीक्षा में सीधे-सीधे प्रश्न पूछे जाते हैं और उन प्रश्नों का स्तर आसान से मध्यम प्रकृति का होता है। एक उम्मीदवार को परीक्षा से पहले यथासंभव कई पिछले व टेस्ट सीरीज इत्यादि द्वारा कई प्रश्नपत्रों को हल कर लेना चाहिए। यह उम्मीदवार में आत्मविश्वास पैदा करता है और प्रश्नों का उत्तर देना मुश्किल नहीं होगा भले ही वह परीक्षा में पहली बार भाग ले रहा हो।

आशा है कि यह लेख आपके प्रश्नों और दुविधाओं का निराकरण करनें में सहायक सिद्ध होगा।

संदर्भित पुस्तकें


भारतीय राज्यव्यवस्था के लिए कुछ पुस्तकें हैं जिनकी मदद से भारतीय राज्यव्यवस्था का अध्ययन कर सकते हैं, जैसे एम. लक्ष्मीकांत द्वारा लिखी हुई पुस्तक और एनसीईआरटी पुस्तकें इसके अलावा मानवेंद्र विक्रम सिंह व सूरज शर्मा द्वारा लिखी गयी "मेकिंग ऑफ इंडियन पॉलिटी"  जो प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा दोनों के लिये उचित हैं।


Exams & Subjects: 
Post Type: 

SHIKSHAPORTAL.COM

↑ Grab this Headline Animator